Home

The podcast for women about all the things that matter.

#QuadratPodcast

  • Shree Ramcharitmans- Balkand 55- Baraat’s arrival in Janakpur and welcome

    चौपाई: *कनक कलस भरि कोपर थारा। भाजन ललित अनेक प्रकारा॥भरे सुधा सम सब पकवाने। नाना भाँति न जाहिं बखाने॥1॥ भावार्थ:-(दूध, शर्बत, ठंडाई, जल आदि से) भरकर सोने के कलश तथा जिनका वर्णन नहीं हो सकता ऐसे अमृत के समान भाँति-भाँति के सब पकवानों से भरे हुए परात, थाल आदि अनेक प्रकार के सुंदर बर्तन,॥1॥ *फल […]

  • Shree Ramcharitmans- Balkand 54- Sending messenger of Janakji to Dashrathji, departure of procession from Ayodhya

    दोहा: *तदपि जाइ तुम्ह करहु अब जथा बंस ब्यवहारु।बूझि बिप्र कुलबृद्ध गुर बेद बिदित आचारु॥286॥ भावार्थ:-तथापि तुम जाकर अपने कुल का जैसा व्यवहार हो, ब्राह्मणों, कुल के बूढ़ों और गुरुओं से पूछकर और वेदों में वर्णित जैसा आचार हो वैसा करो॥286॥ चौपाई: *दूत अवधपुर पठवहु जाई। आनहिं नृप दसरथहिं बोलाई॥मुदित राउ कहि भलेहिं कृपाला। पठए […]

  • Shree Ramcharitmans- Balkand 53- Shri Ram-Laxman and Parshuram-Dialogue

    चौपाई: *नाथ संभुधनु भंजनिहारा। होइहि केउ एक दास तुम्हारा॥आयसु काह कहिअ किन मोही। सुनि रिसाइ बोले मुनि कोही॥1॥ भावार्थ:-हे नाथ! शिवजी के धनुष को तोड़ने वाला आपका कोई एक दास ही होगा। क्या आज्ञा है, मुझसे क्यों नहीं कहते? यह सुनकर क्रोधी मुनि रिसाकर बोले-॥1॥ *सेवकु सो जो करै सेवकाई। अरि करनी करि करिअ लराई॥सुनहु […]

The Hosts

Samantha and Olivia are both writers and activists.

Join the Community

We’re thrilled to have you here! Now, if you don’t want to miss an article or an episode, you can subscribe to our newsletter.

LISTEN ON
Apple Podcasts · Stitcher · Spotify